OthersSatyam Shivam Sundaram:The meaning

1st September 2020by Shubham Agarwal0

यह शब्द भगवान के वर्णन का एक बेहतर तरीका है,परन्तु इसके अर्थ को यदि आत्मसात कर लिया जाए तो इंसान अपने जीवन का सर्वश्रेष्ठ कार्य कर सकता है,यही नहीं इसके अर्थ को समझने से इंसान अपना जीवन मधुर और प्रगतिशील बना सकता है,तो आइए जानते हैं इस शब्द का अर्थ।

सत्यम,जिसका एक सरल अर्थ सत्य है,अर्थात् शिव ही सत्य हैं,उन्होंने ही हमें इस धरती पर भेजा है,और ये बिल्कुल सत्य है कि शिव हम सबमें बसे हुए हैं और हम सब शिव में बसे हुए हैं,और शिव हमेशा ही किसी ना किसी प्रकार से हमारा पोषण करते हैं,हमारी भलाई में उनकी विशेष रुचि है और यही सत्य है,यही सत्यम है।

शिवम्,इस शब्द का अर्थ है अपना सबकुछ न्योछावर करना या दे देना और बदले में किसी से कुछ पाने की इच्छा मात्र भी ना रखना,भगवान शिव सभी को उसका ठिकाना देते हैं,रहने के लिए घर देते हैं लेकिन स्वयं उनके पास एक कुटिया भी नहीं है,जहां वो आराम कर सकें तो ऐसे में भगवान शिव ,शिवम् हैं,और हमें भी कुछ हद तक शिवम् के अर्थ को समझते हुए उसका पालन करना चाहिए।

सुंदरम,का अर्थ है सुंदर,अर्थात् भगवान शिव ने हमें जिस संसार में छोड़ा है वो वास्तव में बेहद सुंदर है,और ये अनुभूति भी भगवान शिव की महिमा से ही होती है और यही नहीं शिव हमेशा प्रयासरत भी रहते हैं कि ये संसार ऐसे ही सुन्दर बना रहे ,इसकी सुंदरता नष्ट ना होने पाए,और इसी सुंदरता को बनाए रखने के लिए भगवान शिव का कठोर प्रयास भी करते हैं।

अतः हमें भी इस “सत्यम शिवम सुंदरम” के मूल मंत्र को अपने जीवन में उतारने की आवश्यकता है। इसके अनुसरण मात्र से ही मानव कल्याण संभव है।
हर हाल में सत्य का अनुसरण करें, हर प्राणी में उस महाशक्ति शिव का दर्शन करें और हर वस्तु व्यक्ति में सुंदरता का अनुभव करें।

किसी भी वास्तु,ज्योतिष संबंधी जानकारी के लिए हमसे संपर्क करें।

Predictionsforsuccess.com

अथवा हमारे ज्योतिष विशेषज्ञ Shweta Bharadwaj से सलाह लेने के लिए यहाँ सम्पर्क करें ।
धन्यवाद्

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

https://predictionsforsuccess.com/wp-content/uploads/2018/07/planets_footer.png

Follow Us

Developed By PhotoholicsMedia

Open chat
Chat with us!